Evening post

​खामोश निगाहें, चश्मे का ये पहरा आदत है पुरानी या कोई दर्द है गहरा। 

Evening post

कुछ वक्त खुद के साथ भी बिताकर देखिए क्या पता आपसे बेहतर कोई इंसान न हो। 

Ishq nahi aasan! 

रात लंबी है, हवाएं सर्द बहुत हैं ये इश्क़ नहीं आसां, कि दर्द बहुत हैं। 

Evening post Aug 16

तेरे आने की आहट है या किसी गम का इशारा जिंदगी कुछ ज्यादा ही जीने लगा हूँ मैं।